LIFE @ DPS NK DETAILS

06
May

याभ अवताय गुप्त प्रततबा ऩुयस्काय 2019
याभ अवताय गुप्त प्रततबा ऩुयस्काय के ऩरयचचाा ऩरयसय भें अऩनी उऩस्स्थतत दजा कयाते हुए हभ गवा का अनुबव कय यहे हैं । प्रततबाशारी तथा गुणवान मुवा ववद्मार्थामों को ऩुयस्कृत कय उन्हें हहिंदी के प्रतत प्रोत्साहहत कयने की मह एक अच्छी ऩहर है । नए मुग की चुनौततमों को ध्मान भें यखते हुए ववद्मार्थामों को हहिंदी शशऺण के प्रतत कैसे रुर्च जागृत कयें इस ऩय सबी प्रततबागी शशऺकों ने अऩने-अऩने ववचाय व्मक्त ककए । कुछ शशऺकों ने हहिंदी ऩाठ्मक्रभ की त्रुहिमों की ओय सफका ध्मान आकृष्ि ककमा औय इस ऩय सबी शशऺक एक भत थे। अत् ऩाठ्मक्रभ भें सिंकशरत सबी ऩाठ छात्रों के जीवन , ऩरयवेश तथा भानशसकता से सिंफिंर्धत हो इस ऩय सबी शशऺकों ने सवासम्भतत से एक याम प्रस्तुत ककमा औय सन्भागा से मह आग्रह ककमा कक उनकी फात फोर्ा अथवा काउिंशसर तक ऩहुिंचे । फडी ववनम्रता के साथ सन्भागा जैसे प्रततस्ष्ठत अखफाय ने मह आश्वासन हदमा है कक वह उनकी फातों को ऩहुिंचाने का अथक प्रमास कयेंगे औय इस गिंबीय ववषम ऩय अवश्म ववचाय ककमा जाएगा । औय इस प्रकाय के अच्छे जरऩान व्मवस्था के साथ शशऺकों को योचक उऩहाय देकय उन्हें सम्भातनत कयते हुए कामाक्रभ का सपरता के साथ सभाऩन हुआ ।